23.1 C
Chandigarh
Sunday, February 25, 2024

आर्थिक आधार पर सामान्य वर्ग के लोगों को 10 फीसदी आरक्षण रहेगा बरकरार

आर्थिक आधार पर सामान्य वर्ग के लोगों को 10 फीसदी आरक्षण देने पर सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को सुनवाई की और 5 जजों की बेंच अपना फैसला सुना रहे हैं. ईडब्ल्यूएस आरक्षण पर अब तक के फैसले के अनुसार 5 में से 4 जजों ने पक्ष में फैसला सुनाया है. बता दें कि ईडब्ल्यूएस को 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने के खिलाफ 30 से ज्यादा याचिकाएं दाखिल की गई हैं. चीफ जस्टिस यूयू ललित की अध्यक्षता वाली पांच संदस्यीय बेंच ने 27 सितंबर को हुई पिछली सुनवाई में फैसला सुरक्षित रख लिया था.

- Advertisement -

Latest Articles

कांग्रेस और आप में लोकसभा चुनाव के लिए हुआ समझौता

चंडीगढ़: लोकसभा चुनावों को लेकर आज कांग्रेस और आम आदमी पार्टी का हरियाणा में समझौता हो गया है। तय हुआ है कि कांग्रेस नौ...

मुख्यमंत्री ने पेश किया लोकलुभावन बजट

चंडीगढ़: हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने अपने दूसरे कार्यकाल का अंतिम बजट आज पेश किया। बजट 1.89 लाख करोड़ का है।इन जिलों में...

हरियाणा विधानसभा का बजट सत्र मंगलवार से शुरू हुआ

चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा का बजट सत्र मंगलवार से स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता की अध्यक्षता में शुरू हो गया। राज्य में नए साल २०२४ का पहला...

मुख्यमंत्री ने विजि़ट किया वो एरिया जहां झुग्गीवासी परिवारों को देने हैं प्लाट

पंचकूला। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को राजीव-इंदिरा कालोनी व खड़क मंगोली के उस एरिया का मुआयना किया जहां एचएसवीपी द्वारा स्लम फ्री पंचकूला...

हरियाणा की राज्यसभा सीट के लिए भाजपा के सुभाष बराला ने नामांकन पत्र दाखिल किया

चंडीगढ़: हरियाणा की राज्यसभा सीट के लिए भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने वीरवार को नामांकन पत्र दाखिल किया। उनका बिना किसी...

You cannot copy content of this page